मेरा वतन महान है

  तिरंगा जिसकी शान है, हर भारतीय की जान है, वही तो हिन्दोस्तान है, मेरा वतन महान है.     उगलती है ज़मीं जहां पे सोना चाँदी मोतियाँ    महक रही है…

Continue Reading

नया साल-नयी उम्मीद, नयी शुरुआत

कहने को तो एक साल में 365 दिन होते हैं, पर यह दिन कैसे बीत जाते हैं पता ही नहीं चलता. हर साल हमसब एक नई उम्मीद और संकल्प के साथ…

Continue Reading

शुरुआत अभी से करें

  "कल करे सो आज करे ,आज करे सो अब पल में परलय होवेगी,बहुरी करेगा कब " इन पंक्तियों को लिखने से पहले कबीर किन अनुभवों से गुजरे होंगे, ये…

Continue Reading
Close Menu