आओ तुमको सफर ए औरत पर ले चलूँ

तुम को सैर कराऊँ मैं एक बला की, आओ तुमको सफर ए औरत पर ले चलूँ, तुम छोड़ो यार सदियों का खूबसूरत फ़लसफ़ा, आओ तुमको सच्चे सफर पर ले चलूँ,…

Continue Reading

अमृता प्रीतम की रचनाएँ बनी औरतों की आवाज़

अमृता कौर प्रीतम हिन्दी व पंजाबी साहित्य जगत का एक ऐसा नाम जिसने अपनी लेखनी के द्वारा नारी सामर्थ्य का एक इतिहास रचा. समाज की रूढ़िवादी कट्टरता और आडम्बरों के…

Continue Reading
Close Menu