मेरे वतन मैं तुझसे हूँ, हसती नही कुछ तेरे सिवा

मेरे वतन मैं तुझसे हूँ, हसती नही कुछ तेरे सिवा

India

                तेरी मिट्टी से है मिट्टी मेरी, ख़ुशियों से हैं ख़ुशियाँ

                मेरे वतन मैं तुझसे हूँ, हसती नहीं कुछ तेरे सिवा ।

 

   जाऊँ कहीं, हो जाऊँ कुछ

मैं कुछ नहीं हूँ तेरे बिना

तू दिल मे है, तू जाँ में है

रग़ों में है बस तेरी सदा

 

परचम में है पहचान मेरी

आइन में है वजूद

ले चल मुझे उस राह पर

रौशन हो जहाँ तेरा रूप

 

तेरे नूर से है मेरी सुब्ह

हया से तेरी शाम है

मेरी हयात हो तेरी नज़र

ये जाँ मेरी कुरबान है

 

ले कर वतन का नाम अब

राहों में गुल बिछाएंगे

रुक्सार पर अब हर तरफ

खुशियाँ चहकती जाएँगी

 

ज़ुल्मत नही, ज़िल्लत नही

दिल से दिल मिलाएंगे

होने ना दें रुसवा तुझे

परचम तेरा लहरायँगे

होगा जहाँ में नाम तेरा

 

हम अहल ए वफ़ा वादा निभाएँगे

तेरी मिट्टी से है मिट्टी मेरी, ख़ुशियों से हैं ख़ुशियाँ

मेरे वतन मैं तुझसे हूँ, हसती नही कुछ तेरे सिवा  । 

 

Read More from Ayman Jamal List

 

मेरे वतन मैं तुझसे हूँ
Ayman Jamal

Leave a Reply

Close Menu